sursagar kis bhasha ki rachna hai (सूरसागर किस भाषा की रचना है )

सूरसागर किस भाषा की रचना है – नमस्कार दोस्तों आपका हमारे ब्लॉग में सवागत है जहा आज आपको इस पोस्ट के माध्यम से सूरसागर किस भाषा की रचना है के बारे में जानकरी देने जा रहा हु जिससे की आपको इस कृति के बारे में सभी जानकारी एक दम विस्तार से प्राप्त हो सके। तो चलिए शुरू करते है हमारे इस पोस्ट को और आपको इस कृति के बारे में जानकारी देने की कोशिस करते है।

sursagar kis bhasha ki rachna hai (सूरसागर किस भाषा की रचना है )

Sursagar Kis Bhasha Ki Rachna Hai

जैसा की आप जानते है सूरदास एक बहुत ही विख्यात कवी थे जहा सूरसागर इन्हे द्वारा लिखित एक रचना थी और यह ब्रज भाषा में लिखी गई थी। यदि आप इस कृति को पढ़ते है तब आपको इस कृति में पढ़ते समय ब्रज भाषा का पता चल जाता है।

वैसे यदि हम पहले के समय की बात की जाये तब आपको बता दू पहले के समय के जो कवी थे वह अपनी रचनाओं के माध्यम से काफी जानकारिया और एक मन के भाव को उकेरने वाले रहते थे जहा यदि आप आज के समय की सभी चीज़ो को जहा आज देखते है वह आपको ऐसी कृतियाँ देखने को नहीं मिलटी है। वैसे अभी के समय में हम देखे तो आज सभी डिजिटल मीडिया की तरह जा रहे है अब ऐसे में बहुत ही काम व्यक्ति ऐसे है जो की अपनी रचनाओं को लिखित रूप में लिखते है।

Sursagar Hindi PDF

sursagar kis bhasha ki rachna hai

Sursagar PDF File

हलाकि हम यहाँ सूरसागर की बात कर रहे है तब यदि आप इस कृति को पढ़ना चाहते है तब आपको मेने नीचे पीडीऍफ़ फाइल दी हुई है जहा से आप इसे आसानी से सेव करके पढ़ सकते है।

अंतिम शब्द

मुझे उम्मीद है आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी जहा मेने आपको इस पोस्ट के माधयम से sursagar kis bhasha ki rachna hai के बारे में बताया है और आपको यह जानकारी काफी पसंद भी आयी होगी यदि आप हमारे इस पोस्ट के समबन्ध में किसी तरह का कोई सवाल है या फिर सुझाव है तब आप हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से बता सकते है। हम जल्दी से हल्दी आपके सभी कमेंट के जवाब देंगे

Leave a Comment